आईपीएस हिमांशु रॉय ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या की

महाराष्ट्र पुलिस के तेज-तर्रार पुलिस अफसर हिमांशु रॉय ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। हालांकि आत्महत्या का कारण सामने नहीं आया है पर समझा जा रहा है कि उन्होंने बोन कैंसर की असहनीय पीड़ा के चलते यह कदम उठाया। वे पिछले दो साल से मेडिकल लीव पर चल रहे थे।

राय ने अपने घर पर ही अपनी सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मारी। उन्हें तुरंत बाम्बे हास्पिटल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

रॉय 1988 बैच के आईपीएस अफसर थे। वे महाराष्ट्र एटीएस के चीफ सहित कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके थे। आतंकवादी निरोधक दस्ते का प्रमुख रहने के दौरान उन्होंने बांद्रा से अनीस अंसारी नामक एक इंजीनियर को गिरफ्तार किया था, जिसने एक अमेरिकी स्कूल को उड़ाने की कथित रूप से साजिश रची थी। उन्होंने ही 2012 में आईपीएल सट्टेबाजी कांड का भंडाफोड़ किया था जिसमें फिल्म अभिनेता बिंदू दारा सिंह को गिरफ्तार किया गया था। 29/11 हमले में आतंकवादी डेविड हेडली का सुराग लगाने वाली टीम में भी वे शामिल थे। पत्रकार जे डे हत्याकांड को सुलझाने में भी उनकी प्रमुख भूमिका रही। अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर के ड्राइवर आरिफ के एन्काउन्टर में भी वे शामिल थे।

आईपीएस की तैयारी के दौरान उनका परिचय लेखक अमीष त्रिपाठी की बहन भावना से हुआ था। सन् 1992 में दोनों ने विवाह कर लिया। भावना भी आईएएस थीं, लेकिन उन्होंने बाद में सर्विस छोड़ दी और एचआईवी पीड़ितों के कल्याण के कार्यक्रम से जुड़ गईं।

CCGwebdesk

Leave a Response